पुलिस ने की जब जमीन की खुदाई, गड्ढे का नजारा देख उड़ गए सबके होश


पुलिस ने की जब जमीन की खुदाई, गड्ढे का नजारा देख उड़ गए सबके होश
  • प्रेम प्रसंग के चलते युवती की भाईयो ने की थी युवक की हत्या, जुर्म छुपाने खेत में दफनाई थी लाश
  • हत्या का लाश किया था दफ़न, आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने किया शव जप्त

जुर्म की दास्तां

जुर्म की ये ऐसी दास्तां है जिसे सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी, जुर्म की एक ऐसी प्लानिंग जिसे रचते समय शायद जुर्म करने वालों ने ये भी नहीं सोचा होगा कि उनकी प्लानिंग एक एक करके उधड़ जाएगी और पुलिस उनके जुर्म का पर्दाफाश चंद दिनों में कर देगी और वे जेल की सलाखों के पिछे होंगे। यदि जुर्म करने वाला ये समझ जाए कि उसका जुर्म ज्यादा दिन छुप नहीं सकता तो शायद जुर्म ना करे। ये जुर्म हुआ बिलासपुर के राजकिशोर नगर में और लाश को दफनाने के लिए चुना गया कोटा विकासखंड के ग्राम पंचायत अमने को। जहां जुर्म करने वालों ने खेत की मेड़ को खोदकर लाश को दफन कर दिया ये सोचकर कि इसके साथ ही उनका जुर्म भी दफन हो जाएगा लेकिन जुर्म छुपता कहां है। पुलिस ने हत्या के आरोपियों के साथ ही खेत की मेड़ खोद कर लाश को भी अपने सुपुर्दनामे में ले लिया।

खेत खोदकर निकाला शव

खेत से खोदकर निकाले गए लाश की शिनाख्त चिंगराज पारा बिलासपुर में रहने वाले तरूख रातड़े के रूप में हुई जो कि सिविल लाईन यातायात थाने में लगे सीसीटीवी आपरेटर के रूप में पदस्थ था। तरूण पिछले दो दिनों से गायब था जिसकी रिपोर्ट उसके घरवालों ने सरकंडा थाने में दर्ज करवाई थी। सरकंडा पुलिस ने दो युवकों को संदेह के आधार पर पकड़ कर पूछताछ की जिसके बाद उन्होंने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए अपराध करना कबूला और पुलिस को घटनास्थल के बारे में बताया। सरकंडा पुलिस ने कोटा तहसीलदार से अनुमति लेकर उनकी मौजूदगी में आज दोनों आरोपियों को लेकर अमने घटनास्थल पर पहुंची तथा आरोपियों के बताए जगह पर खुदाई शुरू की कुछ ही देर बाद जुर्म सामने आ गया और बाहर आ गई तरूण रात्रे की लाश। लाश बरामद करने के बाद पुलिस अब आगे की कार्यवाही में जुट गई है।

पुलिस के अनुसार

पुलिस के अनुसार तरूण की हत्या राजकिशोर नगर के एक किराए के मकान में हुई जहां मृतक को उसकी प्रेमिका ने धोखे से बुलाया जहां पहले से ही अन्य आरोपी भी थे इन लोगों ने तरूण को नशीली पदार्थ सुंघा कर बेहोश किया फिर उसकी हत्या कर दी बाद में लाश को छुपाने के लिए अमेन गांव के एक खेत को चुना गया लेकिन जुर्म छुपता कहां है। सरकंडा पुलिस ने सौतेली माँ बेबी मंडाले और मृतक की प्रेमिका मेघा, पिता बालाराम मंडाले, बडा भाई योगेश मंडाले उर्फ योगी, छोटा भाई अभिषेक मंडाले उर्फ छोटू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर अपराध कायम कर ली गई है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!