श्री साई शैल मंगलम महाविद्यालय सिंगरौली में महिलाओं के सम्मान में सांस्कृतिक समारोह का आयोजन


सिंगरौली एमपी
08 मार्च 2019, विश्व महिला दिवस के आयोजन अवसर पर श्री साई शैल मंगलम महाविद्यालय, सिंगरौली में महिलाओ के सम्मान में सांस्कृतिक समारोह का आयोजन किया गया, सर्वप्रथम शिक्षा की अधिष्ठात्री देवी माँ सरस्वती की प्रतिमा पर मुख्य अतिथि श्रीमती अनुपमा श्रीवास्तव के द्वारा माल्यार्पण व पूजन अर्चन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया, तत्पश्चात महाविद्यालयीन छात्राओं ने स्वागत गीत के माध्यम से कार्यक्रम में पधारे सभी शिक्षकों का स्वागत किया। महाविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष आँशु तिवारी ने स्वरचित तीन हृदयस्पर्शी गीतों के माध्यम से सभी के दिल को छू लिया, महाविद्यालय के निदेशक गोपाल जी श्रीवास्तव ने अपने उद्बोधन के माध्यम से मुख्य अतिथि का, महाविद्यालय के प्राचार्य श्री पंकज कुमार सिंह व सभी उपस्थित शिक्षकों, छात्र संघ पदाधिकारियों एवम छात्रों को शुभकामनाएं व महिला दिवस की बधाइयां प्रेषित की एवम नारी सशक्तीकरण पर जोर दिया, उनके उद्बोधन के पश्चात भैया आशुतोष कुमार ने बहुत ही मधुर व कर्णप्रिय गीत की प्रस्तुति दी, तत्पश्चात बीए की छात्रा रागिनी ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। बीसीए तृतीय वर्ष के छात्र भैया विकाश तिवारी ने ओजपूर्ण भाषण के साथ महिला सशक्तीकरण के लगभग प्रत्येक बिंदु पर चर्चा करते हुए बताया कि आज समाज के हर क्षेत्र में महिलाओं की बढ़ती हुई भूमिका सराहनीय है व इसे नकारा नही जा सकता। उनके बाद बीसीए की छात्रा मनीषा चौहान ने अद्भुत कविता पाठ कर सभी को सोचने पर मजबूर कर दिया, इसके पश्चात आज के कार्यक्रम की मुख्य अतिथि अनुपमा श्रीवास्तव को मंच पर आमंत्रित किया गया।उन्होंने अपने सारगर्भित उद्बोधन में छात्राओं को शिक्षित होने और आगे बढ़ने में आने वाली किसी भी कठिनाई का डटकर मुकाबला करने की बात कही, उन्होंने कहा कि महिलाओं को अपने अधिकारों और कर्तव्यों का बोध होने का साथ साथ सदैव जागरूक रहना चाहिए, ये बदलता हुआ नया भारत है, जंहा स्त्रियों की भूमिका पुरुषों से कंही भी कम नही है, उन्होंने कहा कि एक अच्छी और नई शुरुआत करने हेतु उम्र की कोई सीमा नही होती, आप जब जागृत हो सही दिशा में अपना कदम बढ़ा दीजिये और कार्यक्रम के अंत मे महाविद्यालय के प्राचार्य पंकज कुमार सिंह ने सभी का आभार ज्ञापन करते हुए छात्राओ के मनोबल को बढ़ाने का काम किया, उन्होंने उन्हें नकारात्मक विचारों से दूर रहने का आग्रह किया। कार्यक्रम का सफल संचालन बीकॉम अंतिम वर्ष की छात्रा आँचल सिंह ने बड़े ही रोचक व सधे हुए अंदाज़ में किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रभारी मो. हनीफ कुरैशी, सहायक प्राध्यापकों में श्री संतोष कुमार जैसवाल, अनिल कुमार केशरी, रामजी शुक्ल, मो. जावेद, विनोद विश्वकर्मा, अरविंद बैस, अश्विनी कुमार सिंह व मो. मकसूद आलम उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!