आईआईटी भिलाई के हॉस्टल में बड़ी आग, 200 छात्रों को निकाला गया बाहर, निर्माण पर उठे सवाल


रायपुर। छत्तीसगढ़ स्थित आईआईटी भिलाई के गर्ल्स हॉस्टल में मंगलवार-बुधवार मध्यरात्रि बड़ी दुर्घटना होते-होते टल गई। आईआईटी भिलाई के सेजबहार रायपुर स्थित गर्वमेंट इंजीनियरिंग कालेज परिसर में हॉस्टल में रात लगभग साढ़े 10 बजे दो ब्लाक में भीषण आगजनी हुई।

इस आगजनी में 150 से ज्यादा छात्रों का सामान पूरी तरह जलकर खाक हो गया। आगजनी के समय लगभग 2 सौ छात्र हॉस्टल में सोने की तैयारी कर रहे थे तभी छठवें विंग में खिड़की की तरफ से आग लगी और देखते ही देखते पूरे हॉस्टल में फैल गई। हॉस्टल की दीवारें प्लास्टिक कोटेड मटेरियल से बनी थी जिसके जलने से परिसर में जहरीला धुआं भर गया और छात्र जैसे-तैसे भाग कर नीचे पहुंचे।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी सीएसपी सत्येंद्र पांडे ने बताया कि हॉस्टल का निर्माण UPVC जैसी शीट से कराया गया इस कारण आग तेजी से फैलती गई और जहरीला धुआं भर गया, अगर समय पर छात्र बाहर नहीं निकलते तो बड़ी आग और धुएं के कारण बड़ी जनहानि हो सकती थी, क्योंकि अंदर आग बूझाने का कोई भी यंत्र नहीं था।

वहीं IIT के डायरेक्टर प्रो. रजत मूणा ने दावा किया कि हॉस्टल का निर्माण मापदंडों के अनुसार हुआ है, जो पूरी तरह सुरक्षित है। मौके पर पहुंचे अग्निशमन दल ने पाया कि कई हॉस्टल की दिवारें प्लास्टिक कोटेड मटेरियल से बनी थी, जिसमें प्लास्टिक के पाइप से वायरिंग की गई। इस कारण शार्ट सर्किट की आशंका जताई जा रही है। लगभग रात 12 बजे अग्निशमन दल ने आग पर काबू पा लिया लेकिन जहरीले धुंए के कारण अंदर जाना मुश्किल बना रहा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!