दिग्विजय ने पुलवामा आतंकी हमले को बताया ‘दुर्घटना’, आतंकियों की संख्या पर सरकार को घेरा


नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के एक बयान को लेकर मंगलवार को विवाद खड़ा हो गया है जिसमें उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले का उल्लेख दुर्घटना के तौर पर किया. हालांकि बाद में सिंह ने कहा कि इसमें किसी को कोई शक नहीं है कि यह आतंकी हमला था, लेकिन मोदी जी की ट्रोल आर्मी मूल प्रश्नों के उत्तर देने से इनकार कर रही है.

सिंह ने ट्वीट कर कहा, ”हमें हमारी सेना पर उनकी बहादुरी पर गर्व है व सम्पूर्ण विश्वास है. सेना में मैंने मेरे अनेकों परिचित व निकट के रिश्तेदारों को देखा है किस प्रकार वे अपने परिवारों को छोड़ कर हमारी सुरक्षा करते हैं. हम उनका सम्मान करते हैं.” उन्होंने कहा, ”किन्तु पुलवामा दुर्घटना के बाद हमारी वायु सेना द्वारा किए गए हवाई हमले के बाद कुछ विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है जिससे हमारी भारत सरकार की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न चिन्ह लग रहा है.”

digvijaya singh

@digvijaya_28
किन्तु पुलवामा दुर्घटना के बाद हमारी वायु सेना द्वारा की गयी “Air Strike” के बाद कुछ विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है जिससे हमारी भारत सरकार की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न चिन्ह लग रहा है।

3,959
5:54 AM – Mar 5, 2019 · New Delhi, India
Twitter Ads info and privacy
5,372 people are talking about this

सिंह ने कहा, ”प्रधानमंत्री जी आपकी सरकार के कुछ मंत्री कहते हैं 300 आतंकवादी मारे गये. बीजेपी अध्यक्ष कहते हैं 250 मारे हैं, योगी आदित्यनाथ कहते हैं 400 मारे गये और आपके मंत्री एस एस अहलूवालिया कहते हैं एक भी नहीं मरा. आप इस विषय में मौन हैं. देश जानना चाहता है कि इसमें झूठा कौन है.” उन्होंने कहा, ”मोदी जी सवाल ना सियासत का है ना सत्ता का. सवाल उन बिलखती बहनों का है जिन्होंने अपने भाई खोए हैं सवाल उस मां का है जिसके लाड़ले की शाहदत हुई है और सवाल उस वीरांगना का है जिसने अपना पति खोया है. इनके सवालों का जवाब आप कब देंगे?”

विवाद बढ़ने पर सिंह ने कहा, ”पुलवामा आतंकी हमला था इसमें क्या शक है? लेकिन फिर से मोदी जी की ट्रोल आर्मी मूल प्रश्न का उत्तर देने से क़तरा रही है. मोदी जी ने कहा था नोटबंदी से आतंकवाद समाप्त हो जायेगा लेकिन और बढ़ गया. 300 आतंकवादियों को मार कर जैश-ए-मोहम्मद को भारी नुकसान पहुंचाया लेकिन कश्मीर में आतंकवादी हमले जारी हैं. आख़िर मोदी जी देश को वस्तुस्थति से अवगत कराने से क्यों बच रहे हैं?”

कांग्रेस नेता ने एक ट्वीट को रिट्वीट भी किया जिसमें शब्दकोष का हवाला देते हुए दुर्घटना शब्द का अर्थ ‘शुभ घटना’, ‘विपत्ति’ और ‘आफत’ बताया है. बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने उनके बयान को लेकर आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता सुरक्षा बलों का मनोबल गिरा रहे हैं. दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने पूछा कि क्या राजीव गांधी की हत्या दुर्घटना थी या आतंकी हमला.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!