अतुल राय की छुट्टी के बाद अब वक्त है सुभाष भगत के बदलाव का प्रदेश भाजपा मे सबकुछ ठीक नही


अतुल राय की छुट्टी के बाद अब वक्त है सुभाष भगत के बदलाव का

प्रदेश भाजपा मे सबकुछ ठीक नही
भोपाल। भाजपा सह संगठन महामंत्री अतुल राय की भाजपा से छुट्टी के बाद उनकी पवेलियन संघ वापसी के बाद अब सवाल खड़ा होता है कि आखिर क्यों अतुल राय को वापस संग में भेजा गया है हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में टिकट वितरण अतुल राय की हवेलियां संग वापसी पर चर्चा है कि उन्हें जिस संघ कार्यालय के सामने डम में भेजा गया है वहां पर उतना बीआईपी नहीं है जितना उनका वर्तमान कार्यालय वीआईपी था अब्दुल्लाह की वापसी हो चुकी है तो अब वक्त है बदलाव का सूत्रों की मानें तो अब तक के संगठन महामंत्री में सबसे कमजोर और फिसड्डी साबित हुए हैं।2018 विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता बागी हुए थे उसके बाद भी भाजपा के कई दिग्गज बागियो को मनाने मे नाकाम साबित हुए है। जिसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ा और रस मलाई की तरहा सत्ता का रस चख रहे भाजपा नेताओं से रस मलाई का निबाला कांग्रेस ने छीन लिया है। फिलहाल अब संघ वापसी कर चुके अतुल राय केशव निडम कार्यालय अब छांछ का मजा लेंगे जब तक अतुल राय भाजपा के सह संगठन महामंत्री रहे तब तक यह भाजपा कार्यकर्ताओं को मधु मख्खी का झुंड समझते थे।क्योंकि अतुल जी भाईसाब रस मलाई जो चखते थे।
फिलहाल भाजपा मे मंथन का दौर चल रहा है। अब तक प्रदेश भाजपा मे सबकुछ ठीक नजर आता नही दिख रहा है।
हालांकि पार्टी का एक धड़ा लोकसभा चुनाव के पहले किसी भी तरहा का पार्टी मे फिलहाल अभी बदलाव के पक्ष में नहीं है।..
प्रधान संपादक
मोन्टी रैकवार


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!