चित्रकूट के दो मासूमों की हत्याओं में बीजेपी नेताओं का शामिल होना शर्मनाक: शोभा ओझा


मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग की अध्यक्ष  शोभा ओझा ने कहा कि हम सभी चित्रकूट से अपहृत हुए दो मासूम जुड़वा बच्चे श्रेयांश और प्रियांश की दर्दनाक मौत से स्तब्ध हैं। कांग्रेस पार्टी और समूचे प्रदेश की संवेदनाएं पीड़ित परिवार के साथ हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार उन हत्यारे अपहरणकर्ताओं पर सख्त से सख्त कार्यवाही करेगी इसके लिए हम आश्वस्त हैं।

 ओझा ने कहा कि मध्यप्रदेश में पिछले 15 वर्ष बीजेपी की सरकार रही और उस दौरान अपराधियों, गुंडों और बदमाशों को भाजपा सरकार ने न सिर्फ खुलकर समर्थन किया बल्कि वे सभी बदमाश भाजपा, बजरंगदल और आरएसएस में शामिल होते चले गए। आज सरकार बदलने पर सच्चाई सामने आ रही है। प्रदेश में होने वाली हर आपराधिक मामलों में कहीं न कहीं से बीजेपी समर्थित अथवा आरएसएस और उसके आनुषांगिक संगठनों के नेताओं और समर्थकों के नाम सामने आ रहे है जो बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि चित्रकूट के इस अपहरण और हत्या के मामले में भी बजरंगदल के कार्यकर्ता पद्म शुक्ला का नाम आया है जो इस घटना का मास्टरमाइंड है। पद्म शुक्ला भाजपा नेताओं का करीबी माना जाता है। अपहरण में जो बोलेरो गाड़ी इस्तेमाल हुई है उसमें बीजेपी का झंडा लगा हुआ था। इससे साफ है कि चित्रकूट के मासूम हत्यकांड में भी बीजेपी के नेताओं का हाथ है। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को पैसे कमाने की इतनी हवस हो गई थी कि वे अपहरण और हत्या जैसे मामलों में अपने आप को शामिल कर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

 ओझा ने कहा कि बतौर NCRB भाजपा शासनकाल में हत्या, अपहरण, महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अत्याचार-बालात्कार की घटनाएं चरम पर थी लेकिन भाजपा के सत्ता में काबिज होने की वजह से मामले संज्ञान में नही आ पाते थे। उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा दी हुई चरमराई कानून व्यवस्था की वजह से अपराधियों के हौंसले बुलंद थे। लेकिन अब बहुत जल्दी मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में सारी व्यवस्थाएं चुस्त-दुरुस्त हो जाएंगी। अपराधी किसी भी कीमत पर बख्शे नही जाएंगे। श्रीमती ओझा ने कहा कि कमलनाथ सरकार प्रदेशवासियों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और आगे से ऐसी घटनाएं न हो इसके लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे।

मोन्टी रैकवार
प्रधान संपादक,एमपीब्रेकिंग.इन(mpbreaking.in) दमोह
9893573115


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह ख़बरें पढ़ना ना भूलें!!